धनतेरस पर न खरीदें ये 10 चीजें

धनतेरस खरीदारी का दिन है। आने वाली दिवाली के लिए और एक शुभ दिन होने के कारण, लोग इस दिन सोना, चांदी और बर्तन खरीदते हैं।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि कुछ ऐसी चीजें भी हैं जो इस दिन नहीं खरीदी जानी चाहिए? ऐसा माना जाता है कि अगर आप धनतेरस, जो दिवाली के पहले दिन के रूप में गिना जाता है ,पर इन चीजों को खरीद करते हैं तो आप अशुभता बुलावा देते हैं।


यहां उन चीजों की सूची दी गई है जिन्हें आपको धनतेरस की खरीदारी से बाहर रखनी  चाहिए:

1. लोहा- मान्यताओं के अनुसार धनतेरस पर लोहे से बने घरेलू उत्पाद नहीं खरीदने  चाहिए, विशेष रूप से लोहे के बर्तन क्योंकि लोहा शनि का प्रतीक है।

2. स्टील- धनतेरस पर स्टील के बर्तन खरीदने की रस्म व्यापक है। लेकिन, धार्मिक दृष्टि से इसे गलत माना गया है। चूंकि स्टील लोहे का दूसरा रूप है, इसलिए कहा जाता है कि व्यक्ति को स्टील के बर्तनों से बचना चाहिए और इसके बजाय तांबे या कांसे के बर्तन खरीदने चाहिए।

3. खाली घड़े / बर्तन- यदि आप धनतेरस के दिन घड़ा या कोई बर्तन खरीदते हैं, तो अपने घर के अंदर ले जाने से पहले अपने खाली बर्तन को पानी या अनाज से भर दें।

4. नुकीली वस्तुएं- धनतेरस वाले दिन चाकू, कैंची और अन्य नुकीली वस्तुएं न खरीदें।

5.गाड़ी – बहुत से परिवार धनतेरस पर गाड़ी खरीदते हैं क्योंकि यह एक शुभ दिन माना जाता है। लेकिन यदि आप मान्यताओं को महत्व देते हैं तो धनतेरस से एक दिन पहले इसका भुगतान करें, धनतेरस वाले दिन नहीं।

6.काली वस्तुएँ- चूंकि धनतेरस एक शुभ दिन है और काले रंग को हमेशा अशुभ माना गया है, इसलिए  इस दिन काली वस्तुओं की खरीद से बचना चाहिए।

7.उपहार- धनतेरस से एक दिन पहले उपहार खरीदना और भेजना / देना अच्छा माना जाता है, लेकिन धनतेरस पर नहीं। कारण संभवतः यह हो सकता है कि चूंकि उपहार अक्सर सोने या पैसे हो सकते हैं, इसलिए इसे धनतेरस वाले दिन घर से बाहर भेजना अशुभ माना जाता है।

8. तेल या तेल उत्पाद- ऐसा भी माना जाता है कि इस दिन तेल या तेल उत्पाद, जैसे घी, नहीं लाने चाहिए।
9.कांच या एल्यूमीनियम के उत्पाद- धनतेरस पर एल्यूमीनियम या कांच से बनी कोई भी चीज खरीदने की गलती न करें; यह शुभ नहीं माना जाता है, क्योंकि ये राहु से संबंधित हैं और उन्हें घर लाने का मतलब होता है  देवी लक्ष्मी से पहले आपके घर में उनकी उपस्थिति।

10. नकली सोना- धनतेरस पर खरीदारी की सूची में, अक्सर, सोना सबसे ऊपर आता है। लेकिन नकली सोने के आभूषण, सिक्के आदि इस सूची में नहीं आने चाहिए।

Share
Aaradhi

Recent Posts

नरक चतुर्दशी – महत्व और अनुष्ठान

नरक चतुर्दशी - महत्व और अनुष्ठान दिवाली भारत में मनाए जाने वाले सबसे प्रमुख त्योहारों में से एक है। रोशनी…

3 weeks ago

धनतेरस क्यों मनाया जाता है

धनतेरस को धनत्रयोदशी के नाम से भी जाना जाता है।  यह दिवाली के त्योहार का पहला दिन है। यह पर्व…

3 weeks ago

दिवाली मनाने के 15 तरीके

दिवाली उत्तर भारत के हिंदुओं के लिए साल के सबसे बड़े पर्वों में से है। रोशनी का यह त्योहार ढेर…

4 weeks ago

कैसे मनाया जाता है दशहरा

विजयदशमी, जिसको दशहरा भी कहा जाता है, हर साल नवरात्रि के अंत में मनाया जाने वाला एक प्रमुख हिंदू त्योहार…

1 month ago

बंगाल की दुर्गा पूजा से संबन्धित कुछ अनूठी रिवाजें

बंगाल की दुर्गा पूजा पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। इस अवसर पर सुंदर मूर्तियों से सजे पंडालों में लाखों भक्तों…

1 month ago

कैसे मनाई जाती है बंगाल में दुर्गा पूजा

बंगाल  में मनाए जाने वाले सभी त्योहारों में से दुर्गा पुजा सबसे भव्य है। हालांकि माँ दुर्गा की पूजा भारत…

2 months ago

This website uses cookies.