घर में सुख-शांति के लिए फेंग शुई आइटमस

ब्रह्मांड में हर जगह ऊर्जा मौजूद है। यदि ऊर्जा असंतुलित हो जाती है, तो यह अशांति और कष्ट पैदा करती है। फेंग शुई के सिद्धांत हमारे आसपास सकारात्मकता और शांति बनाने के लिए ऊर्जा का प्रबंधन और संतुलन करने पर जोर देते हैं। फेंग शुई का उद्देश्य आपके घर की ऊर्जा में संतुलन स्थापित करना है ताकि घर में सुख-शांति बनी रहे।
घर में शांति और खुशी को बहाल करने के लिए नकारात्मक ऊर्जा को दूर करना और सकारात्मक ऊर्जा को प्रशस्त करना महत्वपूर्ण है। फेंग शुई की विद्या से
कुछ विशेष वस्तुओं का उपयोग कर हम अपने घर में सद्भाव और शांति ला सकते हैं।
यहां कुछ ऐसे फेंग शुई आइटम की सूची दी गयी है जो नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने और घर में शांति लाने में मदद करते हैं।

घर में सुख-शांति के लिए फेंग शुई आइटमस


भगवान बुद्ध की मूर्ति
यदि आपके पास भगवान बुद्ध की मूर्ति है, तो इसे अपने घर के उत्तर-पूर्व दिशा  में रखें। जब आप भगवान बुद्ध जैसे आध्यात्मिक रूप से उन्नत व्यक्ति की मूर्ति  रखते हैं, तो यह आपके घर पर एक संदेश भेजता है कि आप ऊंचे जीवन मूल्यों से और अपने आपसे जुड़ना चाहते हैं!

सफेद घोड़े की एक जोड़ी

आपके घर के उत्तर-पश्चिम ज़ोन में रखे गए सफेद घोड़े की एक जोड़ी बैंक ऋण जैसी वित्तीय सहायता मिलने में आपकी सहायता करेगी।

विंड चाइम

विंड चाइम को घर के बाहर या अंदर लटकाया जा सकता है। इससे निकलने वाली सुंदर ध्वनि बुरी ऊर्जा से छुटकारा दिलाती है और घर में एक शांतिपूर्ण आभा प्रदान करती है।

उत्तर में, नए कैरियर के अवसरों को आकर्षित करने के लिए पांच छड़ से बना एक विंड चाइम रखें। पश्चिम में एक सात-रॉड विंड चाइम समग्र लाभ लाता है।

दीपक और अगरबत्ती

अग्नि को एक शक्तिशाली ब्रह्मांडीय क्लींजर के रूप में जाना जाता है। सुबह और शाम अगरबत्ती और मिट्टी के दीपक जलाएं और अपने घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह करें।
क्रिस्टल
ये महत्वपूर्ण फेंगशुई प्रतीक हैं। ये वातावरण को शुद्ध करते हैं और रिलैक्स फील करवाते हैं। आप खिड़की में एक क्रिस्टल बॉल टांग सकती हैं। कृत्रिम क्रिस्टल न रखें क्योंकि इन्हें रखने से  कोई फायदा नहीं है। आप क्रिस्टल के पेड़ जैसे कि कोरल ट्री और एमेथिस्ट ट्री रख सकती हैं।

इनडोर फव्वारे
बहते पानी की आवाज हमेशा कानों को सुकून देती है। यह घर पर एक सुखदायक और शांत वातावरण प्रदान करता है। फव्वारे द्वारा एक ऊर्जा के प्रवाह को सकरात्मक बनाया जा सकता है।
याद रखें कि घर के दक्षिण क्षेत्र में फव्वारा न रखें क्योंकि दक्षिण क्षेत्र में अग्नि तत्व की आवश्यकता होती है जबकि फाउंटेन एक जल तत्व है और ऊर्जा में असंतुलन पैदा करता है।
इसके अलावा, बेड रूम में फव्वारे न रखें क्योंकि यह वहाँ रखे जाने पर दुःख और चिंता लाता है।

हैंगिंग पिक्चर्स
आध्यात्मिकता को दर्शाने वाली तस्वीरों के लटकने से घर में शांति और सुरक्षा आती है। यह या तो देवताओं या संतों की तस्वीर हो सकती है। लेकिन डार्क इमेजरी से बचना बेहतर है।

Please follow and like us:

Aaradhi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top